वर्षा ऋतु पर निबंध |Rainy Season Essay in Hindi |Rainy Season Nibandh

Rainy Season Essay in Hindi |Rainy Season Nibandh

भारत में प्रतिवर्ष बारीबारी से छ: ऋतुएँ आती हैं । ये ऋतुएँ हैं- ग्रीष्म, वर्षा, शरद, हेमन्त, शिशिरवसन्त। इनमें से वसन्त को ऋतुराज कहा जाता है और वर्षा को ऋतुओं की रानी। ग्रीष्म ऋतु में जोर की गर्मी पड़ती है। इससे सागर का पानी भाप बनकर उड़ता है और बादल बन जाता है । मानसून की पवनों से धकेले हुए बादल पर्वत की ओर जाते हैं । उससे टकराकर वे बरस पड़ते हैं । इसे ही हम वर्षा कहते हैं। वर्षा प्रायः आषाढ़-सावनभादों के महीनों में होती है । पानी से भरे कालेकाले बादल जब घिर आते हैं तो बच्चे नाचनेकूदने और किलकारियाँ मारने लगते हैं । बादलों को देखकर भोर नाचने लगते हैं । सभी जीवजन्तु, पशु-पक्षी और मनुष्य शीतल पवन (पुरवाई) से खुश हो जाते हैं। रिमझिम वर्षा की बूंदें बरसती हैं, उस समय का दृश्य देखने योग्य होता है । खेतों और मैदानों में हरीहरी मखमली घास उग आती है, पेड़पौधों, बेलों पर हरे पत्ते छा जाते हैं, वन उपवन में कई प्रकार के फूल खिल जाते हैं ।

जिधर देखोहरा हरा दिखायी देता है । किसान प्रसन्न होते हैं कि अब खूव फसल होगी। कभी मूसलाधार पानी बरसने लगता है । तब लोग भीगने से बचने के लिए इधरउधर दौड़ते हैं । गड्ढोंतालाबों, नदियों और झीलों में पानी भर जाता है । लगातार मूसलाधार वर्ष होने से नदियों में बाढ़ आ जाती है । बाद में किनारे के पेड़ पौधे उखड़कर बह जाते हैं । नदी किनारे के गाँवों में पानी का जाता है। कभीकभी मकान भी गिर जाते हैं और रास्ते रुक जाते हैं। वर्षा में कई प्रकार के कीड़ेमच्छर, मक्खी आदि पैदा हो जाते हैं। इससे मलेरिया आदि रोग फैलते हैं । सांप, बिच्छ आदि बिलों से बाहर आ जाते हैं । हमारे देश की अधिकांश भूमि की सिंचाई का आधार वर्षा ही है । इसीलिए वर्षा को ऋतुओं की रानी कहा जाता है । भारत में वर्षा कभी कमकभी अधिक होती है । इसीलिए भारतीय कृषि को मानसून का जुआ आा भी कहते हैं। वर्षा ऋतु। में खोर और मालपुए ड़े) खाये जाते हैं। वषों के अपने पर हमारे देश में बहुत खुशियाँ मनाई जातो हैं ।

प्लिज नोट: आशा करते हैं आप को वर्षा ऋतु पर निबंध (Rainy Season Essay in Hindi) अच्छा लगा होगा।

अगर आपके पास भी Rainy Season Nibandh पे इसी प्रकार का कोई अच्छा सा निबंध है तो कमेंट बॉक्स मैं जरूर डाले। हम हमारी वेबसाइट के जरिये आपने दिए हुए निबंध को और लोगों तक पोहचने की कोशिश करेंगे।

साथ ही आपको अगर आपको यह वर्षा ऋतु पर हिन्दी निबंध पसंद आया हो तो Whatsapp और facebook के जरिये अपने दोस्तों के साथ शेअर जरूर करे।

Leave a Comment