चिड़ियाघर की सैर पर निबंध | Zoo Tour Essay in Hindi | Zoo Tour Nibandh

Zoo Tour Essay in Hindi | Zoo Tour Nibandh

चिड़ियाघर वह स्थान होता है जहां तरहतरह के पशु और पक्षी रखे जाते हैं । यह देखने योग्य जगह होती है। बालक बालिकाएँ बड़े चाव से चिड़ियाघर की सैर को जाते हैं। पिछले महीने मुझे दिल्ली के चिड़ियाघर की सैर का अवसर मिला। हमारी कक्षा के सभी विद्यार्थी हमारे साथ थे । हमारे बेल अध्यापक हमारे दल के संरक्षक थे । हम बस द्वारा चिड़ियाघर के निकट पहुंचे। मुख्य द्वार पर पहुँचकर हमने अपनीअपनी टिकट खरीदी। उसके बाद हम गेट में से चिड़ियाघर के अन्दर प्रविष्ट हुए। मैं यह कहे बिना नहीं रह सकता कि चिड़ियाघर देखने योग्य है । यह छोटावन है । इसके कई विभाग हैं ।

पहले हम पक्षियों के विभाग में गए। वहाँ मोर अपने पंख फैलाकर नाच रहा था। मोरनी उसके पास खड़ी नाच देख रही थी। आगे चले तो जालीदार कमरे में सफेद, काले आदि रंगों के कबूतर दिखाई दिये । वे ‘गुटरगूं बोल रहे थे। इसके आगे रंगबिरंगी चिड़िया दिखाई दीं। आगे हमने तोता, मैना, चील कबूतर, खुटबढ़ईबाज और उल्लू देखे। दिन के के समय सोये हुए उल्लुओं को देखकर हमें बहुत हंसी आयी। एक बनावटी झील थी। इसमें बतखें तैर रही थीं। किनारे पर कुछ बगुले एक टाँग पर खड़े थे। एक हंसों का जोड़ा तट पर किलोल कर रहा था। कुछ छोटेबड़े मेढ़क टर्र रहे थे । वे कभी पानी से बाहर आते और कभी फिर पानी में छलाँग मार जाते थे।

आगे चलने पर हमें पिंजरों में सिंहबाघचीते, भालू आदि भयंकर जीव दीखे। इसके आगे बन्दर और लंगूर चिल्ला रहे थे । लोग उनके आगे चने डाल रहे थे। सबसे चकित हम तब हुए जब हमने शुतुरमुर्गकंगारू और बेबरा देखे। शुतुरमुर्ग बास्ट्रेलिया का पक्षी है, जिसकी ऊंचाई ऊंट जितनी है । मादा कंगारू के पेट में फैली थी, जिसमें उसने बच्चा रखा हुआ था। जेबरा के शरीर पर ऐसी धारियाँ थीं । कि मानो चित्रकार ने कूची से चित्रित की हों। अब हम यक चुके थे। एक जगह हरी घास पर बैठकर हमने वह खाने का सामान खाया जो हम घर से लाये थे। चिड़ियाघर की यह सैर हम कभी न भूलेंगे ।

प्लिज नोट: आशा करते हैं आप को चिड़ियाघर की सैर पर निबंध (Zoo Tour Essay in Hindi) अच्छा लगा होगा।

अगर आपके पास भी Zoo Tour Nibandh पे इसी प्रकार का कोई अच्छा सा निबंध है तो कमेंट बॉक्स मैं जरूर डाले। हम हमारी वेबसाइट के जरिये आपने दिए हुए निबंध को और लोगों तक पोहचने की कोशिश करेंगे।

साथ ही आपको अगर आपको यह चिड़ियाघर की सैर पर हिन्दी निबंध पसंद आया हो तो Whatsapp और facebook के जरिये अपने दोस्तों के साथ शेअर जरूर करे।

Leave a Comment